UPSC की तैयारी के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करना पड़ता है:

 UPSC union publi service commission (संघ लोक सेवा आयोग) की तैयारी के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करना पड़ता है:


योग्यता और पात्रता: UPSC परीक्षा के लिए आवेदन करने के लिए आपको नागरिकता की शर्तों को पूरा करना होगा। उम्मीदवारों को किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से स्नातक डिग्री या समकक्ष डिग्री की आवश्यकता होती है।

परीक्षा पैटर्न और सिलेबस की समझ: UPSC परीक्षा के पैटर्न, चरणों, पेपर वजनात्मकता और सिलेबस की समझ प्राप्त करें। आधिकारिक UPSC वेबसाइट पर आपको संबंधित जानकारी मिलेगी।

अच्छे संसाधनों का चयन: UPSC परीक्षा की तैयारी के लिए आप अच्छे संसाधनों का चयन कर सकते हैं, जैसे पुस्तकें, संकलन, मॉक टेस्ट सीरीज, साइट्स, और कोचिंग संस्थानों के सामग्री।

नोट्स बनाएं: आप अपने अध्ययन की सारांशिक जानकारी के लिए नोट्स बना सकते हैं। यह नोट्स आपके अवधारणाओं को स्पष्ट करने और पुनरावृत्तियों के लिए मददगार साबित हो सकते हैं।

मॉक टेस्ट करें: नियमित रूप से मॉक टेस्ट लें ताकि आप परीक्षा के पैटर्न, समय प्रबंधन, वस्त्र और आत्मविश्वास को समझ सकें। UPSC परीक्षा के लिए ऑनलाइन मॉक टेस्ट भी उपलब्ध होते हैं जिन्हें आप आधिकारिक वेबसाइट और अन्य प्लेटफॉर्मों पर प्राप्त कर सकते हैं।

नवीनतम संघ लोक सेवा आयोग के पेपर को समझें: UPSC परीक्षा के लिए अभ्यर्थियों को न्यूनतम योग्यता ग्रामीण विकास मंत्रालय के निर्देशों के अनुसार प्राप्त करनी चाहिए। यह न्यूनतम योग्यता संबंधित परीक्षा विभाग द्वारा आवश्यकताओं के आधार पर संघ लोक सेवा आयोग द्वारा स्पष्ट की जाती है।


यहां एक UPSC पेपर का उदाहरण है:

सामान्य अध्ययन के पेपर का उदाहरण:पेपर का वजन: 200 अंक (2 घंटे का समय)

प्रश्न 1: भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के संस्थापक कौन थे? उनका जन्म स्थान क्या था?

प्रश्न 2: स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह की वजह से प्रसिद्ध गान "सरफ़रोशी की तमना अब हमारा दिल में हैं" किस अवसर पर गाया गया था?

प्रश्न 3: भारतीय संविधान का निर्माण कब हुआ था और किस दिन यह पूर्णतः प्रभावी हुआ?

प्रश्न 4: महात्मा गांधी की पुस्तक "हिंद स्वराज्य" का प्रकाशन किस वर्ष हुआ था?

प्रश्न 5: भारतीय इतिहास में जलियांवाला बाग हत्याकांड कब और कहां हुआ था?

यह सिर्फ एक उदाहरण पेपर है और वास्तविक परीक्षा के पेपर के साथ अलग हो सकता है। आपको पेपर के लिए उपयुक्त अध्ययन सामग्री, संघ लोक सेवा आयोग की वेबसाइट और अन्य संबंधित स्रोतों से अवगत होना चाहिए। परीक्षा के लिए संघ लोक सेवा आयोग की आधिकारिक वेबसाइट पर नवीनतम परीक्षा पैटर्न और पेपर विवरण उपलब्ध होते हैं।

याद रखें कि UPSC परीक्षा विशाल और व्यापक है, इसलिए आपको उच्च स्तरीय सामग्री को पढ़ने, अच्छी समझ और लिखने की क्षमता विकसित करने की आवश्यकता होगी। संघ लोक सेवा आयोग के द्वारा प्रदान की गई आधिकारिक जानकारी का ध्यान रखें और परीक्षा की अच्छी तैयारी के लिए नियमित अभ्यास करें।

UPSC की तैयारी के लिए कुछ महत्वपूर्ण पुस्तकें हैं जो आप पढ़ सकते हैं। नीचे कुछ सर्वाधिक प्रशंसित पुस्तकों की सूची है:


"भारतीय राजव्यवस्था" - M. Laxmikanth

"भूगोल का मुख्य दृष्टिकोण" - D.R. Khullar

"भारतीय अर्थव्यवस्था" - Ramesh Singh

"विज्ञान और प्रौद्योगिकी" - Ashok Kumar Singh

"सामान्य अध्ययन पेपर I" - TMH Publication

"सामान्य अध्ययन पेपर II" - Arihant Publication

"भारतीय इतिहास" - Bipin Chandra

"भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन" - बिपिन चंद्रा

"अर्थव्यवस्था" - Ramesh Singh

"सामान्य विज्ञान" - Arihant Publication

यह सिर्फ कुछ प्रमुख पुस्तकों की सूची है और आप अपनी आवश्यकतानुसार अन्य संदर्भ पुस्तकों का भी उपयोग कर सकते हैं। संघ लोक सेवा आयोग की आधिकारिक वेबसाइट और पुस्तकालय में भी आपको और अधिक उपयोगी संसाधन मिलेंगे।


आपकी तैयारी के दौरान इन पुस्तकों के अलावा अखबार, मैगज़ीन, और अन्य सामग्री भी पढ़ना न भूलें। विभिन्न सामग्री से आपको विषयों की विस्तृतता और परिपूर्णता का अधिक संचार होगा। पढ़ाई के साथ-साथ, नोट्स बनाना, मॉक टेस्ट लेना, और पिछले वर्षों के पेपर्स को हल करना भी महत्वपूर्ण है।



एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने

संपर्क फ़ॉर्म